देहरादून में 24 और 25 नवंबर को छात्रों के लिए आयोजित होगा करियर टाउन

देहरादून। करियर बडी क्लब ने आज दून लाइब्रेरी में आयोजित एक प्रेस वार्ता में अपने आगामी कार्यक्रम ‘करियर टाउन’ की घोषणा करी। छात्रों को उनके भविष्य के बारे में सही निर्णय लेने में सहायता करने के लिए एक अभूतपूर्व पहल के रूप में यह कार्यक्रम 24 और 25 नवंबर को दून इंटरनेशनल स्कूल, डालनवाला में होने जा रहा है। मीडिया को संबोधित करते हुए, करियर बडी क्लब के सीईओ सैथजीत सिंह अरोड़ा ने करियर टाउन के बारे में अपना उत्साह व्यक्त करते हुए कहा, हमारा दो दिवसीय करियर टाउन कार्यक्रम छात्रों को रोमांचक करियर-उन्मुख गतिविधियों और विभिन्न क्षेत्रों के पेशेवरों से अमूल्य मार्गदर्शन प्रदान करेगा। हम इस आयोजन में कई सम्मानित व्यक्तियों के साथ जुड़ कर बेहद प्रसन्न हैं। उन्होंने आगे कहा, कार्यक्रम में प्रतिष्ठित अतिथियों की एक श्रृंखला देखने को मिलेगी, जिनमें आईआईएम इंदौर के निदेशक हिमांशु रायय हावर्ड क्लब ऑफ इंडिया के अध्यक्ष विशाल सहगलय डीजीपी उत्तराखंड आईपीएस अशोक कुमारय शेफ, लेखक और पूर्व वीजे, मारिया गोरेट्टीय सामाजिक कार्यकर्ता एवं आर्ट इम्प्रेसारियो, अनुराग चैहानय ब्यूटी एंड वेलनेस विशेषज्ञ और लेखिका, वसुधा रायय सीईओ रेड एफएम, निशा नारायणनय और मिस्टर इंडिया और अभिनेता, दारासिंह खुराना शामिल हैं।

इस अवसर के दौरान, डीजीपी अशोक कुमार ने एक इंसान के करियर को उसके व्यक्तिगत हितों के साथ जोड़ने के महत्व पर जोर दिया और इस बात पर प्रकाश डाला कि इंसान की संतुष्टिदायक नौकरी उसके जुनून के साथ मेल खानी चाहिए। अपनी अंतर्दृष्टिपूर्ण टिप्पणियों में, उन्होंने अंतर्निहित वंशानुगत कारकों, कड़ी मेहनत के निरंतर समर्पण और भाग्य या अवसर के अप्रत्याशित तत्वों की परस्पर क्रिया पर प्रकाश डाला जो सामूहिक रूप से किसी व्यक्ति के करियर पथ को आकार देते हैं। उन्होंने इच्छुक व्यक्तियों से अपनी अंतर्निहित प्रतिभा को पहचानने और उसका लाभ उठाने के लिए एसडब्ल्यूओटी विश्लेषण करने का आग्रह किया। इसके अलावा, उन्होंने स्मार्ट वर्क के महत्व को रेखांकित किया और इस बात पर जोर दिया कि कड़ी मेहनत के साथ-साथ रणनीतिक और बुद्धिमान प्रयासों का अनुप्रयोग भी महत्वपूर्ण है।

करियर टाउन पाठ्यक्रम, करियर, परिसरों और कंपनियों को समर्पित प्रेरक चर्चाओं, आकर्षक कार्यशालाओं, प्रतियोगिताओं और गतिविधि क्षेत्रों की मेजबानी करने के लिए तैयार है। कार्यक्रम का उद्देश्य छात्रों को अपने भविष्य के बारे में सोच-समझकर निर्णय लेने के लिए सशक्त बनाना है। आगे की जानकारी देते हुए, सामाजिक कार्यकर्ता अनुराग चैहान ने साझा किया, ष्उस चुनौती को मध्यनजर रखते हुए, जहां 93ः छात्र केवल सात करियर विकल्पों के बारे में जानते हैं, करियर टाउन दो दिवसीय कार्यक्रम के दौरान करियर एप्टीट्यूड टेस्ट भी करवा रहा है। यह टेस्ट छात्रों को उनके व्यक्तित्व, ताकत और कौशल को खोजने में मदद करने के लिए डिजाइन किया गया है, जो सर्वोत्तम करियर विकल्पों के बारे में जानने में सहायता करेगा और यह सब बिलकुल निशुल्क होगा। इस कार्यक्रम में प्रतिष्ठित स्वामी विवेकानंद शिक्षा पुरस्कार 2023 भी शामिल होगा, जिसमें शिक्षा और समाज में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले व्यक्तियों को सम्मानित किया जाएगा। चीफ स्ट्रैटेजी ऑफिसर (सीएसओ) तनवीर शाह ने कहा, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी के मार्गदर्शन में, कैरियर टाउन को माध्यमिक शिक्षा विभाग, उत्तराखंड सरकार से समर्थन का एक आधिकारिक पत्र भी प्राप्त हुआ है। यह समर्थन 250 से अधिक करियर विकल्पों के बारे में जागरूकता फैलाने और उत्तराखंड में छात्रों के लिए रोजगार के अवसरों को बढ़ाने में योगदान देने की हमारी प्रतिबद्धता को उजागर करता है। चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (सीओओ) अनुकृति बत्रा ने कहा हमारे कार्यक्रम में विशेष रूप से बारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए प्रतियोगिताएं शामिल होंगी। ₹1,00,000 के पुरस्कार जीतने के अवसर वाली इन प्रतियोगिताओं में क्विज, डिबेट, स्टार्टअप पिच और बहुत कुछ शामिल हैं। हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि 30 स्कूलों ने पहले ही अपनी भागीदारी की पुष्टि कर दी है, जिससे सभी उपस्थित प्रतिभागियों के लिए एक आकर्षक अनुभव सुनिश्चित हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *